सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

लघु साहसिक कहानियाँ हिंदी में - Short adventure stories in hindi

  Hindi Short Adventure Stories of Class 7 ।।  Sahas kahani in hindi नमस्कार मित्रो स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हम आपके लिए लघु साहसिक कहानी लेकर आए हैं। जिसे पढ़ने से आपमें एक सकारातमक ऊर्जा का संचार होगा। मित्रो हम सभी के जीवन में कुछ न कुछ परेशानियाँ आती हैं। लेकिन उस समस्या के समय जो लोग धैर्य से काम करते हैं। वहीं लोग जीवन में आगे बढ़ते हैं। साहसी चिंटू और पिंटू - Short adventure story in hindi for each one एक बार की बात है। प्रेम नगर में चिंटू और पिंटू नाम के दो भाई अपने माता-पिता सुधा और विनीत के साथ रहते थे। एक बार सुबह के समय परिवार के सभी लोग साथ में खाना खा रहे थे। तभी  उसी समय फोन बजने की आवाज आती है। चिंटू की मां जाकर फोन उठाती है। तो उन्हें पता चलता है कि उनके पिता की तबीयत अचानक खराब हो गई है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सुधा तुरंत अपने पति विनीत से बताती है। कि मेरे पिताजी की तबीयत खराब है हमें उन्हें देखने के लिए जाना होगा। तभी चिंटू और पिंटू भी उनके पास आते हैं। और पूछते हैं पापा क्या हुआ? तब विनीत बोला, तुम्हारे नाना जी की तबीयत अचानक खराब हो गई है। वह अस्

हिंदी में नैतिक पाठ के साथ परिवार के बारे में लघु कथाएँ - Short stories about family with moral text in hindi

  Hindi story on importance of family ।।Hindi stories on importance of family for kids नमस्ते दोस्तो स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हम आपके लिए नैतिक कहानी लेकर आए हैं। दोस्तो हमारे जीवन में सबसे करीब लोग है तो, वे है हमारे परिवार लोग जो हमारे सुख-दुःख में हमेशा हमारे साथ खड़े रहते हैं। इसलिए हम हमेशा अपनी का ख्याल रखना चाहिए। ऐसे ही प्रेरणा दायक कहानी आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूं।  समझदार राहुल - best moral story in hindi for elders एक बड़े शहर में उत्कर्ष नाम का एक व्यक्ति अपनी पत्नी दिव्या और बेटे राहुल के साथ रहता था। एक दिन उत्कर्ष के बाबू अचानक शहर आ जाते हैं। बाबू जी को देखकर उत्कर्ष ने उनसे पूछता है। बाबू जी आप यहां कैसे? तब बाबू जी बोलते हैं, बेटा मुझे बहु ने फोन करके बुलाया है। तब उत्कर्ष करता है! पिताजी आप यात्रा करके आए हैं, थक गए होंगे आप चलिए आराम कर लीजिए। बाबू जी कमरे में जाकर आराम करने लगते हैं। अब उत्कर्ष अपनी पत्नी दिव्या के पास जाकर पूछता है, दिव्या तुम्हने बाबू जी को बुलाया है। दिव्या बोली हां मैंने ही बाबू जी को फोन करके बुलाया हूं। तब उत्कर्ष पूछता है, आखिर क्यों?

जीवन में सफलता पाना है तो अपने दिल की सुनो - secret of success motivational story in hindi for every one

  जीवन में सफलता कैसे पाएं - best motivational story in hindi for students, best success motivational story in hindi for students, some inspirational stories in hindi for students Motivational story -  अगर जीवन में सफल होना है तो बस अपने दिल की सुनो। एक लक्ष्य निर्धारित करो और पूरा फोकस अपने लक्ष्य पर लगा दो, यह मत ध्यान दो की लोग क्या कहेंगे । क्योकि यह मायने नही रखता की लोग क्या सोचेंगे। लेकिन यह ज्यादा मायने रखता है कि आप अपने बारे में क्या सोचते है। इसलिए आप जो अपना लक्ष्य निर्धारित किये है। बस उसी पर ध्यान दे और बाकि सब भूल जाये। इसी से सम्बंधित एक प्रेरक प्रसंग आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूं। एक बार कुछ युवकों के समूह में सबसे पहले पहाड़ पर  चढ़ने की शर्त लगी। सभी युवको ने पहाङ पर चड़ना आरम्भ किया , लेकिन उनमें से तो कुछ युवक पहाड़ पर थोङी ऊपर चढ़ते ही फिसलने लगे वह डर की वजह से आशा छोङकर वापस नीचे उतर आये और उनमें से कुछ ने तो साहस करके पहाड़ केे मध्य भाग तक तो पहुच गये लेकिन पहाड़  काफी ऊंचा था इसलिए उनमे से जो लोग बीच तक चढ़े थे डर कि वजह से वापस नीचे उतर आतेे है। लेकिन उनमें से

हिंदी में नैतिक के साथ लघु धार्मिक कहानी - Short religious story with moral in Hindi

  Laghu dharmik Kahani in hindi ।। Moral story in hindi for religious ।। Best moral story in hindi Moral story  नैतिक कहानी पढ़ना सभी को अच्छा लगता है, एक तो इसमें सामाजिक और नैतिक ज्ञान होता है और साथ ही इससे हमें जानकारी भी प्राप्त होती हैं, खासकर बच्चों को।  Moral story  शिक्षा भी मिलती हैं। तो हम आज ऐसे ही प्रेरणा दायक कहानी आप लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं। आशा करता हूं कि यह आपको पसंद जरूर आएगा। अगर यह पसंद आए तो इसे और लोगो तक शेयर जरूर करें। मूर्ख ब्राह्मण - moral story in hindi for every one एक गांव में सुमेश्वर नाम का एक गरीब ब्राह्मण रहता था। वह मां दुर्गा का परम भक्त था। एक बार वह अपने गुरु की अज्ञा अनुसार मां दुर्गा की तपस्या करने का निश्चय किया। वह एक घने जंगल में चला गया। और एक बड़े से पेड़ के नीचे एक पैर पर खड़े होकर तपस्या करने लगा। बहुत दिन बीत गए। कड़ी धूप, बारिश तथा तेज हवा चली लेकिन सुमेश्वर वहीं डटा रहा। और अपनी एकाग्रता भंग होने नहीं दिया। सुमेश्वर की कड़ी तपस्या देखकर मां दुर्गा उस पर प्रसन्न हो गई। और मां दुर्गा ने उसको दर्शन देते हुए बोली, वत्स आखे खोलो! मै तुम

ऐसे बनाए खुद को मजबूत - best success tips in hindi for life

  The secret of success tips in hindi।। Success tips in hindi।। Todayprerna success tips in hindi Success tips यदि आप अकसर शंकाओं से घिरे रहते है, कोई भी निर्णय लेने में डरते हैं या फिर खुद पर भरोसा नहीं होने के कारण कोई पहल नहीं कर पाते हो तो इसका मतलब आपमें आत्म विश्वास की कमी है, ऐसे में खुद को मजबूत बनाने की जरूरत है। कैसे कोई पल आता है जब खुद का विश्वास डगमगाने लगता है। ऐसे में जरूरत होती हैं, कुछ ऐसे बदलावो की जो आपको अंदर से मजबूत बनाए और आपको अलग पहचान दे।  1. खुद पर करे विश्वास - कैसी भी स्थिति क्यों न हों, यह विश्वास रखे कि आप उसका सामना कर सकते है। हमेशा ध्यान रखें कि आप खुद के बारे में जितना सोचते है उससे कहीं अधिक काम करने में सक्षम है। 2. करे वही जो सही हो - किसी भी चाल या अच्छाई बुराई से बड़ी बात है कि आप खुद के प्रति ईमानदार रहे, भले ही रास्ता मुश्किल क्यों ना हो हमे जो सही लगे और जो सही हो वही करना चाहिए। 3. बड़ा सोचे - यदि आप बेहतर सोचेंगे तो ही बेहतर करेंगे। क्योंकि इंसान की सोच और कार्य से ही वो जाना जाता है। 4. खुद से हार न माने - जितने मजबूत आपके इरादे होंगे

जैसा आप सोचते है, आप वैसे ही बन जाते है भगवान बुद्ध की प्रेरणा दायक कहानी - Best Gautam Buddha stories in hindi for life

  Story of Gautam Buddha in hindi ।। Gautam Buddha story in hindi ।। Gautam Buddha life story in hindi ।। Siddharth Gautam Buddha story in hindi एक बार गौतम  बुद्ध और उनके शिष्य एक वन से गुजर रहे होते है। बहुत दूर चलने के बाद भगवान बुद्ध के शिष्य बुद्ध से कहते है, बुद्ध क्या हम कुछ देर विश्राम कर सकते है। बुद्ध कहते है, अवश्य अब हमे विश्राम करना चाहिए, ओ देखो एक बड़ा वृक्ष है। हम उसके नीचे विश्राम करेंगे। बुद्ध और उनके सभी शिष्य उस वृक्ष के नीचे बैठ जाते है। उनमें से एक शिष्य ने बुद्ध कहता है, बुद्ध आपने हमसे एक बात कही थी कि! हम जैसा सोचते है हम वैसा ही बन जाते है। कृपा करके इस कथन को विस्तार से समझाइए, बुद्ध कहते है अवश्य, मै तुम्हे एक छोटी सी कहानी सुनाता हूं। एक नगर में एक बहुत धनी सेठ रहता था। उसके पास धन की कोई कमी नहीं थी। परन्तु फिर भी हर समय धन इकट्ठा करने के बारे में सोचता रहता था। एक बार सेठ के घर उसका एक रिश्तेदार आता है। सेठ उसकी खूब खातेदारी करता है। बातों-बातों में सेठ का रिश्तेदार सेठ से कहता है, अरे सेठ जी हमारे नगर में एक नामी गिरामी सेठ रहता था। वह आप से ज्यादा धनवान

दो प्रोत्साहन देने वाली लघुकथाएँ - Two encourageable short stories in hindi

हौसला बढ़ाने वाली दो कहानियां ,उम्मीद कभी न खोना - never lose hope।। Best short stories in hindi ।। Two encourageable short stories।। Running motivation story in Hindi 1. अनमोल एक दस साल का लड़का था। वह खेलो में बहुत अच्छा था। उसने अपने स्कूल में बहुत सी दौड़े जीती थी। एक बार उसका चयन एक धावक के रूप में अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व करने के लिए अंतर विद्यालयी खेल प्रतयोगिता में हुआ। जबकि वह एक बहुत अच्छा धावक था फिर भी वह घबराने लगा क्योंकि प्रतियोगिता काफी कठिन होगी। तभी, उसने एक छोटी सी चिटी को चीनी के एक दाने को ले जाते देखा। वह दीवार पर चढ़ने का प्रयास कर रही थी परन्तु वह बार-बार असफल हो रही थी। उसने प्रयत्न जारी रखा और अंत में वह अपनी मंजिल पर पहुंचने में सफल हुई। चिटी को देखकर, अनमोल ने सोचा कि यदि एक चिटी जैसे छोटे से प्राणी ने उम्मीद नहीं खोई और अपनी मंजिल तक पहुंच गई, तो वह क्यों हिम्मत हार जाए? उसे उम्मीद और हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। मुझे अपने लक्ष्य को पाने के लिए सबसे बेहतर प्रदर्शन करना चाहिए। अगले दिन से ही उसने अधिक से अधिक अभ्यास शुरू कर दिया। अन्तिम दौड़ में वह आत्मविश्वास