सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

लघु साहसिक कहानियाँ हिंदी में - Short adventure stories in hindi

  Hindi Short Adventure Stories of Class 7 ।।  Sahas kahani in hindi नमस्कार मित्रो स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हम आपके लिए लघु साहसिक कहानी लेकर आए हैं। जिसे पढ़ने से आपमें एक सकारातमक ऊर्जा का संचार होगा। मित्रो हम सभी के जीवन में कुछ न कुछ परेशानियाँ आती हैं। लेकिन उस समस्या के समय जो लोग धैर्य से काम करते हैं। वहीं लोग जीवन में आगे बढ़ते हैं। साहसी चिंटू और पिंटू - Short adventure story in hindi for each one एक बार की बात है। प्रेम नगर में चिंटू और पिंटू नाम के दो भाई अपने माता-पिता सुधा और विनीत के साथ रहते थे। एक बार सुबह के समय परिवार के सभी लोग साथ में खाना खा रहे थे। तभी  उसी समय फोन बजने की आवाज आती है। चिंटू की मां जाकर फोन उठाती है। तो उन्हें पता चलता है कि उनके पिता की तबीयत अचानक खराब हो गई है। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सुधा तुरंत अपने पति विनीत से बताती है। कि मेरे पिताजी की तबीयत खराब है हमें उन्हें देखने के लिए जाना होगा। तभी चिंटू और पिंटू भी उनके पास आते हैं। और पूछते हैं पापा क्या हुआ? तब विनीत बोला, तुम्हारे नाना जी की तबीयत अचानक खराब हो गई है। वह अस्

हिंदी में बुद्धिमत्ता पर लघु कथा - Short story on intelligence in hindi

  नमस्ते दोस्तो स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हम आपके लिए बुद्धिमता से जुड़ी कहानी लेकर आए हैं। दोस्तो हम सभी के जीवन में कुछ न कुछ समस्याएं आती रहती है। जो लोग अपने बुद्धि और विवेक से काम करते हैं। वह इन सभी समस्याओं से आसानी से निकल पाते हैं। तो दोस्तो आज हम ऐसे ही प्रेरणा दायक कहानी आप लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं। चालक व्यापारी -  Short story on intelligence in hindi एक व्यापारी था। उसका कपड़ों का कारखाना था। कारखाने से कपड़े तैयार कर वह उसे शहर बेचने जाता था। ऐसे ही एक बार व्यापारी कपड़ों को तैयार करके उसे बेचने के लिए शहर की ओर चल पड़ा। उसके गांव से शहर काफी दूर था। गर्मी का समय था। व्यापारी चलते-चलते थक चुका था। उसने कपड़ों से भरा संदूक एक पेड़ के नीचे रखकर, वहां बैठकर आराम करने लगा। थोड़ी देर में उसे नींद आ गई। जब उस व्यापारी की नींद खुली तो, वह चौंक गया। दरसल उसका संदूक खुला था। और उसमें रखा सारा कपड़ा गायब था। तभी उसे बंदरों की आवाज सुनाई दिया।  उसने ऊपर देखा। उस पेड़ पर बहुत सारे बंदर बैठे हुए थे। सभी बंदर कपड़े पहने हुए थे। यह देखकर व्यापारी को बहुत गुस्सा आया फिर उसने पत्थर

हिंदी में नैतिक पाठ के साथ परिवार के बारे में लघु कथाएँ - Short stories about family with moral text in hindi

  Hindi story on importance of family ।।Hindi stories on importance of family for kids नमस्ते दोस्तो स्वागत है हमारे ब्लॉग पर आज हम आपके लिए नैतिक कहानी लेकर आए हैं। दोस्तो हमारे जीवन में सबसे करीब लोग है तो, वे है हमारे परिवार लोग जो हमारे सुख-दुःख में हमेशा हमारे साथ खड़े रहते हैं। इसलिए हम हमेशा अपनी का ख्याल रखना चाहिए। ऐसे ही प्रेरणा दायक कहानी आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूं।  समझदार राहुल - best moral story in hindi for elders एक बड़े शहर में उत्कर्ष नाम का एक व्यक्ति अपनी पत्नी दिव्या और बेटे राहुल के साथ रहता था। एक दिन उत्कर्ष के बाबू अचानक शहर आ जाते हैं। बाबू जी को देखकर उत्कर्ष ने उनसे पूछता है। बाबू जी आप यहां कैसे? तब बाबू जी बोलते हैं, बेटा मुझे बहु ने फोन करके बुलाया है। तब उत्कर्ष करता है! पिताजी आप यात्रा करके आए हैं, थक गए होंगे आप चलिए आराम कर लीजिए। बाबू जी कमरे में जाकर आराम करने लगते हैं। अब उत्कर्ष अपनी पत्नी दिव्या के पास जाकर पूछता है, दिव्या तुम्हने बाबू जी को बुलाया है। दिव्या बोली हां मैंने ही बाबू जी को फोन करके बुलाया हूं। तब उत्कर्ष पूछता है, आखिर क्यों?

जीवन में सफलता पाना है तो अपने दिल की सुनो - secret of success motivational story in hindi for every one

  जीवन में सफलता कैसे पाएं - best motivational story in hindi for students, best success motivational story in hindi for students, some inspirational stories in hindi for students Motivational story -  अगर जीवन में सफल होना है तो बस अपने दिल की सुनो। एक लक्ष्य निर्धारित करो और पूरा फोकस अपने लक्ष्य पर लगा दो, यह मत ध्यान दो की लोग क्या कहेंगे । क्योकि यह मायने नही रखता की लोग क्या सोचेंगे। लेकिन यह ज्यादा मायने रखता है कि आप अपने बारे में क्या सोचते है। इसलिए आप जो अपना लक्ष्य निर्धारित किये है। बस उसी पर ध्यान दे और बाकि सब भूल जाये। इसी से सम्बंधित एक प्रेरक प्रसंग आप सभी के साथ शेयर कर रहा हूं। एक बार कुछ युवकों के समूह में सबसे पहले पहाड़ पर  चढ़ने की शर्त लगी। सभी युवको ने पहाङ पर चड़ना आरम्भ किया , लेकिन उनमें से तो कुछ युवक पहाड़ पर थोङी ऊपर चढ़ते ही फिसलने लगे वह डर की वजह से आशा छोङकर वापस नीचे उतर आये और उनमें से कुछ ने तो साहस करके पहाड़ केे मध्य भाग तक तो पहुच गये लेकिन पहाड़  काफी ऊंचा था इसलिए उनमे से जो लोग बीच तक चढ़े थे डर कि वजह से वापस नीचे उतर आतेे है। लेकिन उनमें से

जीवन बदल देने वाली प्रेरणा दायक विचार

जितने भी महान लोग हुए है वह कोई अलग कार्य नही करते है, बस वह अपने कार्य को अलग तरीके से करते है, इसलिए उनको सफलता मिलती है। आज ऐसे ही महान लोगो के द्वारा बताए गये (motivational quotes) मोटिवेशनल कोट्स आप सभी के साथ शेयर कर रहे है।कोई भी लक्ष्य को हासिल करने के लिए आपको सिर्फ दो चीजें चाहिए पहला तो दृढ़ संकल्प और दूसरा कभी न टूटने वाला हौसला। लेकिन संघर्ष के रास्ते में जब आपका हौसला कमजोर पड़ने लगे तो उस समय आपको ऐसी जरूरत होती है जो की आपको एक बार फिर से उठकर खड़े होने की प्रेरणा दे। इसलिए आज हम आपको ऐसी ही सफल और महान लोगे के द्वारा दिए गए सफलता के कुछ ऐसे मंत्र को बताने वाले है । जिन्हें आप अपने मुश्किल समय में अपनी ताकत बना कर खुद को आगे बढने के लिए प्रेरित कर सकते है। Motivational quotes in hindi।। Motivational status in hindi।। Hindi motivational quotes।। Best motivational quotes in hindi for every one “ कामयाब होने के लोए निरंतर सीखते रहे। सिखने से ही आप अपनी क्षमताओं को पहचान सकते है।” “ संकल्प मनुष्य को असीमित ऊर्जा प्रदान करता है, जिससे स्वार्थहीन मनुष्य देवता बन जाता है।”

हिंदी में नैतिक के साथ लघु धार्मिक कहानी - Short religious story with moral in Hindi

  Laghu dharmik Kahani in hindi ।। Moral story in hindi for religious ।। Best moral story in hindi Moral story  नैतिक कहानी पढ़ना सभी को अच्छा लगता है, एक तो इसमें सामाजिक और नैतिक ज्ञान होता है और साथ ही इससे हमें जानकारी भी प्राप्त होती हैं, खासकर बच्चों को।  Moral story  शिक्षा भी मिलती हैं। तो हम आज ऐसे ही प्रेरणा दायक कहानी आप लोगों के साथ शेयर कर रहे हैं। आशा करता हूं कि यह आपको पसंद जरूर आएगा। अगर यह पसंद आए तो इसे और लोगो तक शेयर जरूर करें। मूर्ख ब्राह्मण - moral story in hindi for every one एक गांव में सुमेश्वर नाम का एक गरीब ब्राह्मण रहता था। वह मां दुर्गा का परम भक्त था। एक बार वह अपने गुरु की अज्ञा अनुसार मां दुर्गा की तपस्या करने का निश्चय किया। वह एक घने जंगल में चला गया। और एक बड़े से पेड़ के नीचे एक पैर पर खड़े होकर तपस्या करने लगा। बहुत दिन बीत गए। कड़ी धूप, बारिश तथा तेज हवा चली लेकिन सुमेश्वर वहीं डटा रहा। और अपनी एकाग्रता भंग होने नहीं दिया। सुमेश्वर की कड़ी तपस्या देखकर मां दुर्गा उस पर प्रसन्न हो गई। और मां दुर्गा ने उसको दर्शन देते हुए बोली, वत्स आखे खोलो! मै तुम

भारत में सामाजिक समस्याये - samajik samasya par nibandh

Essay on social problem of our society ।।Cause and prevention of India's social problem in Hindi ।। Samajik Samayal par lekh भारतवर्ष एक विशाल देश है। अपनी विशालता के कारण इसमें भिन्नता अर्थात जाति, धर्म, भाषा, आचार-विचार आदि में एक भाव दूसरे भाव से अलग मालूम होता है। हम विभिन्नता में एकता लिए हुए हैं। इस दृष्टि से हमारा देश एक प्रकार से अनोखा देश है। यहां पंद्रह भाषाएं हैं। असंख्य उपभाषाएं तथा बोलियां है। अजीब या अनोखे प्रकार के धर्म है। सभी को अपना धर्म मानने की स्वतंत्रता है। यहां की भूमि कहीं पहाड़ी, पथरीली, कहीं पठार कहीं मैदान तथा कहीं ऊंची-नीची है। इन सब बातों का प्रभाव यहां के निवासियों पर पड़ता है। हम देश के रूप में एक होते हुए भी सामाजिक रुप से एक नहीं है। हमारा समाज तमाम रूपों में बंटा है। हर समाज ने अपने विचार तय कीए है। उस समाज के लोग उन नियमों पर चल रहे हैं। पुरानी लकीर के फकीर बना रहना हमारी आदत हो गई है। हम परिवर्तन में विश्वास नहीं करते हैं। अंधविश्वास और रूढ़िवादी शगुन-अपशगुन भाग्यवान हमारे धर्म में शामिल है। धर्म के बेईमान ठेकेदारों को हमारे समाज के लोग ईश्वर का